Home > Event > श्री मुकतेश्वर गंगा महोत्सव 2018
Map Unavailable

Date/Time
Date(s) - 18/11/2018 - 23/11/2018
3:00 PM - 7:00 PM

Categories No Categories


 

जैसा कि आपको ज्ञात है, इस वर्ष कार्तिक मेले में 11000 वर्ग फुट में एक विशाल स्वास्तिक का निर्माण किया जा रहा है, गंगा किनारे स्थित इस विशाल स्वास्तिक पर 108 शिवलिंग स्थापित किए होंगे। सम्पूर्ण भू भाग को हज़ारों दीपक, मनमोहक फूलों व आकर्षक रंगोली द्वारा सजाया जाएगा। प्रतिदिन शाम को भव्य रुद्राभिषेक व विश्व स्तरीय गंगा महा आरती का आयोजन किया जाएगा।
प्रत्येक शिवलिंग को भगवान शिव का एक नाम देकर संबंधित मंत्रो का ब्राह्मणों द्वारा रुद्राक्ष की माला से जप किया जाएगा।

सहयोग राशि प्रदान कर आप निम्नलिखित मंत्रों में से कोई एक मंत्र चयनित कर सकते हैं।चयनित मंत्र को नीचे दिए कॉमेंट बॉक्स में लिखें।

This Ganga Mela, Stay Natural Foundation is committed to leave no stone unturned to make the Ganga Aarti world class. More than 150 national and international volunteers are working hard to create a 11000 square ft SWASTIK, a pious Vedic symbol, at the basin of Holy River Ganga, over which 108 Shivalingam will be fabricated. It will be beautifully decorated with thousands of deepaks (traditional lightning) , alluring flowers, colourful Flags and rangolis.Every evening 21 Pandits along with 200 volunteers will perform the Ganga aarti in traditional dress followed by 108 shivlingam Rudrabhishek. vibration of Vedic mantras, soul touching sound of huge Nagadas(drums),Shankh, Ghantas and the captivating fragrance of HAWAN will make you feel the glory of VEDIC INDIA

Select a mantra from the table below, and write into comment box while booking your sponsorship for a shivalingam.

( Sponsor a Shivling for rupees 5100/-)

Bank details: Stay Natural Foundation
HDFC BANK
Current Account
A/C 50200015726232
Ifsc code HDFC0001092
Def Col.
N Delhi

 

पिनाकिनेॐ पिनाकिने नमः।  
108 names of Lord ShivaMantrasSponsorsAddress
शिवॐ शिवाय नमः।Aaditya kumar singhDELHI
महेश्वरॐ महेश्वराय नमः।Smt. Sandhaya singhSultanpur,UP
शंभवेॐ शंभवे नमः।
शशिशेखरॐ शशिशेखराय नमः।Sri Avnish kumarDelhi
वामदेवायॐ वामदेवाय नमः।
विरूपाक्षॐ विरूपाक्षाय नमः।
कपर्दीॐ कपर्दिने नमः।
नीललोहितॐ नीललोहिताय नमः।
शंकरॐ शंकराय नमः।Sri Shankar RaoDelhi
शूलपाणीॐ शूलपाणये नमः।
खटवांगीॐ खट्वांगिने नमः।
विष्णुवल्लभॐ विष्णुवल्लभाय नमः।
शिपिविष्टॐ शिपिविष्टाय नमः।
अंबिकानाथॐ अंबिकानाथाय नमः।Ms Pankaj sharmaMeerut (UP)#####
श्रीकण्ठॐ श्रीकण्ठाय नमः।Mr Pankaj KumarGujarat
भक्तवत्सलॐ भक्तवत्सलाय नमः।
भवॐ भवाय नमः।
शर्वॐ शर्वाय नमः।
त्रिलोकेशॐ त्रिलोकेशाय नमः।
शितिकण्ठॐ शितिकण्ठाय नमः।
शिवाप्रियॐ शिवा प्रियाय नमः।
उग्रॐ उग्राय नमः।
कपालीॐ कपालिने नमः।
कामारीॐ कामारये नमः।
अंधकारसुर सूदनॐ अन्धकासुरसूदनाय नमः।
गंगाधरॐ गंगाधराय नमः।Sri Sham sher singhAyodhya,UP
ललाटाक्षॐ ललाटाक्षाय नमः।
कालकालॐ कालकालाय नमः।
कृपानिधिॐ कृपानिधये नमः।
.भीमॐ भीमाय नमः।
परशुहस्तॐ परशुहस्ताय नमः।
मृगपाणीॐ मृगपाणये नमः।
जटाधरॐ जटाधराय नमः।
कैलाशवासीॐ कैलाशवासिने नमः।
कवचीॐ कवचिने नमः।
कठोरॐ कठोराय नमः।
त्रिपुरान्तकॐ त्रिपुरान्तकाय नमः।
वृषांकॐ वृषांकाय नमः।
वृषभारूढ़ॐ वृषभारूढाय नमः।
भस्मोद्धूलितविग्रहॐ भस्मोद्धूलितविग्रहाय नमः।
सामप्रियॐ सामप्रियाय नमः।
स्वरमयीॐ स्वरमयाय नमः।
त्रयीमूर्तिॐ त्रयीमूर्तये नमः।
अनीश्वरॐ अनीश्वराय नमः।
सर्वज्ञॐ सर्वज्ञाय नमः।
परमात्माॐ परमात्मने नमः।
सोमसूर्याग्निलोचनॐ सोमसूर्याग्निलोचनाय नमः।
हविॐ हविषे नमः।
यज्ञमयॐ यज्ञमयाय नमः।
सोमॐ सोमाय नमः।
पंचवक्त्र
ॐ पंचवक्त्राय नमः।
सदाशिवॐ सदाशिवाय नमः।
विश्वेश्वरॐ विश्वेश्वराय नमः।
वीरभद्रॐ वीरभद्राय नमः।
गणनाथॐ गणनाथाय नमः।
प्रजापतिॐ प्रजापतये नमः।
हिरण्यरेताॐ हिरण्यरेतसे नमः।
दुर्धर्षॐ दुर्धर्षाय नमः।
गिरीशॐ गिरीशाय नमः।
गिरिशॐ गिरिशाय नमः।
अनघॐ अनघाय नमः।
भुजंगभूषणॐ भुजंगभूषणाय नमः।
भर्गॐ भर्गाय नमः।
गिरिधन्वाॐ गिरिधन्वने नमः।
गिरिप्रियॐ गिरिप्रियाय नमः।
कृत्तिवासाॐ कृत्तिवाससे नमः।
पुरारातिॐ पुरारातये नमः।
भगवान्ॐ भगवते नमः।
प्रमथाधिपॐ प्रमथाधिपाय नमः।
मृत्युंजयॐ मृत्युंजयाय नमः।Smt Seema SinghAyodhya, UP
सूक्ष्मतनुॐ सूक्ष्मतनवे नमः।
जगद्व्यापीॐ जगद्व्यापिने नमः।
जगद्गुरूॐ जगद्गुरुवे नमः।
व्योमकेशॐ व्योमकेशाय नमः।
महासेनजनकॐ महासेनजनकाय नमः।
चारुविक्रमॐ चारुविक्रमाय नमः।
रुद्रॐ रुद्राय नमः।Pratha singhDelhi
भूतपतिॐ भूतपतये नमः।
स्थाणुॐ स्थाणवे नमः।
अहिर्बुध्न्यॐ अहिर्बुध्न्याय नमः।
दिगम्बरॐ दिगंबराय नमः।
अष्टमूर्तिॐ अष्टमूर्तये नमः।
अनेकात्माॐ अनेकात्मने नमः।
सात्विकॐ सात्विकाय नमः।Pragya YadawBangalore
शुद्धविग्रह शुद्धविग्रहाय नमः।
शाश्वतॐ शाश्वताय नमः।
खण्डपरशुॐ खण्डपरशवे नमः।
अजॐ अजाय नमः।
पाशविमोचनॐ पाशविमोचकाय नमः।
मृडॐ मृडाय नमः।
पशुपतिॐ पशुपतये नमः।
देवॐ देवाय नमः।
महादेवॐ महादेवाय नमः।
अव्ययॐ अव्ययाय नमः।
हरिॐ हरये नमः।
भगनेत्रभिद्ॐ भगनेत्रभिदे नमः।
अव्यक्तॐ अव्यक्ताय नमः।
दक्षाध्वरहरॐ दक्षाध्वरहराय नमः।
हरॐ हराय नमः।
पूषदन्तभित्ॐ पूषदन्तभिदे नमः।
अव्यग्रॐ अव्यग्राय नमः।
सहस्राक्षॐ सहस्राक्षाय नमः।
सहस्रपादॐ सहस्रपदे नमः।
अपवर्गप्रदॐ अपवर्गप्रदाय नमः।
अनन्तॐ अनन्ताय नमः।Sri Manoj KumarHapur,UP
तारकॐ तारकाय नमः।Sri Arvind Digvijay NegiDelhi
परमेश्वरॐ परमेश्वराय नमः।Smt Indu boraGwaliar,UP

Bookings

Bookings are closed for this event.

Language